चूत का प्यासा बॉयफ्रेंड

loading...

मेरा नाम नेहल रश्तोगी है। मुझे लिखना तो नहीं आता फिर भी कोशिश कर रही हूँ।मैं 22 साल की हूँ और मेरा बॉयफ्रेंड 24 साल का है।दो महीने पहले ही हमारी मुलाकात हुई थी लेकिन अब मुझे पछतावा हो रहा है। मेरा बॉयफ्रेंड मुझे बहुत ही ज्यादा चोदता है। आप सोच रहे होंगे कि यह तो अच्छी बात है लेकिन नहीं… मुझे इससे तकलीफ उठानी पड़ रही है। उसे तो बस हर रोज चुदाई चाहिए।चोदते वक्त वो मेरे मम्मे बहुत ही जोर से दबाता है और उसका लौड़ा जल्दी पानी नहीं छोड़ता। लगभग एक घंटे तक हमारी चुदाई चलती है तो मैं कई बार झड़ जाती हूँ और इतना थक जाती हूँ कि पूरा बदन दर्द करता है।

मैं दिन भर ऑफिस में रहती हूँ और ऑफिस से आने के बाद वो हमेशा मेरी चूत मारता है।इन दो महीनों में ही मेरे मम्मे काफ़ी ढीले पड़ गये हैं और चूतड़ इतने बड़े हो गए हैं कि लगता है मैं कोई शादीशुदा औरत हूँ या फिर दो चार लौड़े एक साथ ले रही हूँ।हालांकि मैं भी उससे चुदना ही चाहती हूँ लेकिन हफ्ते में 2-3 बार, रोज रोज नहीं… और उसका पूरा खर्चा भी मैं ही करती हूँ। वो मेरी हर बात मानता है लेकिन अपने लौड़े पर उसे कंट्रोल नहीं है।

loading...

चुदाई के अलावा भी बहुत काम होते हैं लेकीन उसे बस चुदाई के अलावा और कुछ समझ में ही नहीं आता।क्या ऐसी कोई दवाई है कि उसकी वासना कंट्रोल में रहे। अगर ऐसी कोई दवाई नहीं तो मुझे उससे ब्रेकअप ही करना पड़ेगा। मुझे उससे ब्रेकअप करने में कोई परेशानी नहीं है पर उसके लंड से चुदवाने का एक अलग ही मजा है, और वो इमानदार है इसलिए किसी दवाई से उसकी वासना को कंट्रोल करना चाहती हूँ।

loading...